कप्तानी से हटे नहीं हटाए गए कोहली 48 घंटे की डेडलाइन, नहीं माने तो BCCI ने दिखाई अपनी ताकत

BCCI ने विराट कोहली को भारत की ODI टीम के कप्तान के पद से हटाकर रोहित शर्मा को बागडोर सौंप दी। कोहली पहले ही टी20 कप्तानी छोड़ चुके थे। पता चला है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने वनडे टीम की कप्तानी से स्वेच्छा से इस्तीफा देने के लिए पिछले 48 घंटे तक इंतजार किया लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। लेकिन 49वें घंटे में रोहित शर्मा ने इस पोजीशन को गंवा दिया जो होना तय था।

शायद यह उनका समय है किसी को यह बताने का कि विराट कोहली के आउट होने का जिक्र बीसीसीआई के उस बयान में भी नहीं था जिसमें सिर्फ इतना कहा गया था कि चयन समिति ने आगे बढ़ते हुए रोहित शर्मा को वनडे और टी20 अंतरराष्ट्रीय टीमों का कप्तान नियुक्त किया था। बनाने का फैसला किया है। कोहली ने बस अपनी कप्तानी खो दी। बीसीसीआई और राष्ट्रीय चयन समिति ने कोहली को कप्तानी से हटा दिया, जिनकी महत्वाकांक्षा शायद घर में 2023 के वनडे विश्व कप में भारतीय टीम का नेतृत्व करने की होगी।

कोहली ने स्वेच्छा से छोड़ी थी टी-20 की कप्तानी
कोहली ने स्वेच्छा से टी-20 की कप्तानी छोड़ी थी। बीसीसीआई वनडे में भी उनसे ऐसा करने की उम्मीद कर रहा था। कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम का रिकॉर्ड बेहतरीन रहा है। टीम ने 95 वनडे मैच खेले, जिसमें से 65 जीते और 27 हारे। तीन टाई रहे या नतीजा नहीं निकल सका। टीम का जीत का प्रतिशत 68 रहा। हालांकि, वे टीम को कोई आईसीसी ट्रॉफी दिलाने में नाकाम रहे।

न्यूजीलैंड के खिलाफ रोहित टी-20 में कर चुके हैं कप्तानी
रोहित शर्मा न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 घरेलू सीरीज में कप्तानी कर चुके हैं। भारत ने इस सीरीज को 3-0 से जीत लिया। यह सीरीज कोच राहुल द्रविड़ के लिए भी बतौर कोच पहली सीरीज थी।

2017 के बाद पहली बार दो कप्तान
2017 के बाद पहली बार टीम इंडिया में दो कप्तान होंगे। इससे पहले 2014 से 2017 तक भारतीय टीम में दो कप्तान थे। धोनी ने 2014 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था और विराट कोहली टीम के नए कप्तान बने थे। वहीं धोनी वनडे और टी-20 में बतौर कप्तान खेल रहे थे। इसके बाद कोहली ने 2017 से तीनों फॉर्मेट में भारत की कप्तानी की है। अब कोहली के टी-20 कप्तानी छोड़ने के बाद रोहित और कोहली भारत के दो अलग-अलग कप्तान होंगे।