जिम्बाब्वे क्रिकेट पर प्रतिबंध लगने के बाद, निराश खिलाड़ियों ने लिया यह भावुक फैसला

हाल ही में आईसीसी ने एक बड़ा फैसला लेते हुए जिम्बाब्वे को निलंबित कर दिया था। इसके बाद खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर भी काफी सवाल हुए थे। लेकिन अब निराश खिलाड़ियों ने एक बेहद भावुक फैसला लिया हैं। बता दे कि जिम्बाब्वे के क्रिकेटर देश में इस खेल को बचाये रखने के लिए मुफ्त में खेलेंगे। टीम के एक वरिष्ठ खिलाड़ी ने बताया कि हम मुफ्त में खेलेंगे, हमें जब तक उम्मीद की किरण दिखेगी तब तक हम खेलना जारी रखेंगे।

जानकारी के अनुसार पुरुष और महिला सीनियर टीम को पिछले दो महीने का भुगतान भी नहीं किया गया है, पुरुष टीम को हाल के नीदरलैंड और आयरलैंड के दौरे की मैच फीस भी नहीं दी गयी है। आईसीसी प्रतियोगिताओं में भाग लेने पर रोक लगने के बाद इन खिलाड़ियों ने अगामी टी20 क्वालीफायर्स में भाग लेने के लिए प्रतिबद्धता दिखायी हैं।

महिला टी20 क्वालीफायर्स के मैच अगस्त में होंगे जबकि पुरुषों के क्वालीफायर्स मुकाबले अक्टूबर में खेले जाऐंगे। बता दे कि आईसीसी ने जिम्बाब्वे क्रिकेट को संस्था के संविधान का उल्लंघन करने के लिये तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया था। इस नियम के अनुसार आईसीसी संविधान किसी तरह के सरकारी हस्तक्षेप को स्वीकार नहीं करता है।