नेथन लायन की आँधी में उड़ा ENG, ऑस्ट्रलिया ने जीता पहला टेस्ट, टूटे कई बड़े रिकॉर्ड

ऑस्ट्रेलिया एवं इंग्लैंड के बीच खेले गए ऐजबेस्टन के मैदान में एशेज सीरीज के पहले मुकाबले में मेहमान टीम ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को पटखनी देकर सीरीज का पहला टेस्ट मैच अपने नाम कर लिया है। ऑस्ट्रेलिया की ओर से दूसरी पारी में नेथन लायन ने घातक गेंदबाजी से इंग्लैंड के बल्लेबाजी क्रम को धराशाई कर दिया और 251 रन की बड़ी जीत में महत्वपूर्ण योगदान निभाया।

पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया के 284 के जवाब में इंग्लैंड ने पहली पारी में 374 रन बनाये और 110 रन को बढ़त बनाई। दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने आई ऑस्ट्रेलिया की तरफ से स्टीव स्मिथ ने लगातार दूसरा शतक जमाया

इसके अलावा मैथ्यू वेड ने 110 रन बनाये और 487 पर पारी घोषित करके इंग्लैंड को 398 रन का लक्ष्य दिया, जिसके जवाब में इंग्लैंड की पूरी टीम नेथन लायन की गेंदबाजी के आगे धराशाई नजर आई। उन्होंने 6 विकेट झटके। इंग्लैंड की टीम 146 रन पर ढेर हो गई।

टूटे यह रिकॉर्ड :-

1) 1) स्टीव स्मिथ एक टेस्ट में 2 बार 140+ स्कोर बनाने वाले दुनिया के चौथे बल्लेबाज बने।

150* & 153 – एलेन बॉर्डर v Pak (लाहौर) 1980

142 & 199* – एंडी फ्लॉवर v SAf (हरारे ) 2001

162 & 143 -दिलशान v Ban (चिट्टागोंग) 2009

144 & 142 – स्टीव स्मिथ (बर्मिंघम) 2019

2) स्टीव स्मिथ सबसे कम पारियों में 25 टेस्ट शतक जमाने वाले दुनिया के दूसरे खिलाड़ी बन गए है। उनसे आगे सिर्फ डॉन ब्रैडमैन है जिन्होंने 68 पारी में यह कारनामा किया था।

68 – डॉन ब्रैडमैन

119 – स्टीव स्मिथ

127 – विराट कोहली

130 – सचिन तेंदुलकर

138 – गावस्कर

139 – मैथ्यू हैडन

3) स्टीव स्मिथ एक एशेज टेस्ट की दोनो पारियों के शतक जड़ने वाले पाँचवें एवं ओवरऑल आठवें खिलाड़ी बन गए है।

4) एशेज की पिछली 10 पारियों में स्मिथ ने 6 शतक की मदद से 1000 से अधिक रन बनाये है। बता दें की लगातार 10 पारियों में डॉन ब्रैडमैन 7 शतक से 1236 रन बना पाये थे। स्मिथ दूसरे नंबर पर आ गए है।

5) स्मिथ एशेज में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले चौथे खिलाड़ी बन गए है वे अब तक 10 शतक जमा चुके है।

19 – ब्रैडमैन (63 पारी)

12 – जैक होब्स (71)

10 – स्टीव वॉग (72)/ स्टीव स्मिथ (43)

6) सबसे कम पारियों में 10 एशेज शतक जड़ने वाले दूसरे बल्लेबाज बने।

37 – ब्रैडमैन

43 – स्मिथ

48 – हॉब्स

71 – वॉग

7) एजबेस्टन के मैदान में रनों के मामले में ऑस्ट्रेलिया की यह दूसरी सबसे बड़ी जीत है