विश्व क्रिकेट के 7 ऐसे रिकार्ड्स की नंबर 1 और 2 पर होगा हर भारतीय को गर्व

विश्व क्रिकेट में खिलाड़ियों के रिकार्ड्स नियमित तौर पर बनते हैं और टूटते हैं, लेकिन कुछ रिकार्ड्स ऐसे भी हैं, जिनका टूटना या किसी खिलाड़ी द्वारा तोड़ पाना नामुमकिन सा है, आज हम बात करेंगे कुछ ऐसे ही क्रिकेट रिकार्ड्स के बारे में जिन्हें तोड़ पाना अब शायद मुमकिन नहीं है.

1- लगातार 21 मेडन ओवर

आपको जानकार खुशी होगी की लगातार 21 ओवर मेडन डालने वाले गेंदबाज भारतीय थे, 12 जनवरी 1964 को भारत के बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज बापू नाडकरणी ने चेन्नई के मैदान में इंग्लैंड के खिलाफ लगातार 21 मेडन ओवर किये थे, मैच के दौरान बापू नाडकरणी ने 32 ओवर किये थे जिसमे उन्होंने मात्र 27 रन देकर 5 विकेट चटकाए थे.

2- लगातार 4 मैन ऑफ़ द मैच

प्रिंस ऑफ़ कोलकाता, जी हाँ हम बात कर रहे हैं पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की, सौरव गांगुली एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्हें लगातार 4 मैचों में 4 मैन ऑफ़ द मैच अवार्ड से सम्मानित किया गया है. पूर्व कप्तान द्वारा यह कारनामा 1997 में पाकिस्तान के खिलाफ किया गया था, उक्त सीरीज में दादा की बदौलत भारतीय टीम ने यह सीरीज 4-1 से जीत ली थी.

3- सबसे महान खिलाड़ी के मात्र 6 छक्के

यहाँ बात हो रही है, क्रिकेट इतिहास के सबसे महान खिलाड़ी सर डॉन ब्रेडमेन की जिन्होंने अपने पुरे करियर के दौरान मात्र 6 छक्के ही लगाए थे, जिनमें से 5 उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ और एक भारत के खिलाफ लगाया था.

4- लगातार 100 टेस्ट मैच

जी हाँ, लगातार 100 टेस्ट मैच खेलने का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के ब्रेंडन मैक्कुलम के नाम है, जिन्होंने अपने पदार्पण से लेकर अपने संन्यास तक न्यूजीलैंड के लिए खेलते हुए एक भी टेस्ट मैच मिस नहीं किया.

5- हर स्थान पर बल्लेबाजी

विश्व क्रिकेट में 4 ऐसे भी बल्लेबाज हैं जो कभी न कभी अपनी टीम के लिए हर स्थान पर बल्लेबाजी कर चुके हैं चाहे बात हो ओपनिंग की या मध्यक्रम में या अंत में, इन खिलाड़ियों ने नंबर 1 से लेकर नंबर 10 तक हर स्थान पर बल्लेबाजी किया है, ये बल्लेबाज हैं – पाकिस्तान के शोएब मलिक व अब्दुल रज्जाक, दक्षिण अफ्रीका के लांस क्रुजनर और श्रीलंका के हसन तिलकरत्ने

6- 100 से अधिक टेस्ट मैचों में कप्तान

दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ एक मात्र ऐसे कप्तान हैं जिन्होंने अपने टीम के लिए 100 से अधिक टेस्ट मैचों में टीम की कप्तानी की हो.

7 – थर्ड अंपायर द्वारा सबसे पहला रन आउट

आपके भी मन में ये सवाल जरुर होगा की सर्वप्रथम वो कौन सा बल्लेबाज होगा जिसे थर्ड अंपायर ने आउट करार दिया होगा, तो जवाब है सचिन तेंदुलकर. जी हाँ सचिन तेंदुलकर ही वो बल्लेबाज हैं जिन्हें अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में थर्ड अंपायर द्वारा सर्व प्रथम रन आउट दिया गया था, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे इस मैच में मास्टर तेंदुलकर को जोंटी रोड्स ने रन आउट किया था और मैच की अगली पारी में तेंदुलकर ने जोंटी रोड्स को रन आउट कर दिया था.