IPL 2021: इन खिलाड़ियों का हो सकता है ये अंतिम IPL, लिस्ट में धोनी का भी नाम शामिल

क्रिकेट की सबसे बड़ी लीग IPL में हर कोई खेलना चाहता है। अभी आईपीएल 2021 के दूसरे फेज का आयोजन UAE में किया जा रहा है। अगले साल यानी 2022 में mega auction ​होने वाला है। 2 नई टीमें आईपीएल से जुड़ने वाली हैं। कई खिलाड़ियों का भविष्य 2022 के मेगा ऑक्सन में तय होगा। वहीं, कई खिलाड़ियों का आईपीएल करियर भी समाप्त हो जाएगा। आईए हम उन खिलाड़ियों के नाम आपको बताते हैं। जिनका आईपीएल करियर समाप्त हो सकता है।

dhoni csk

केदार जाधव – सनराइजर्स हैदराबाद के 36 साल के बल्लेबाज केदार जाधव पिछले तीन आईपीएल सीजन से कुछ खास नहीं कर पाए हैं। इस सीजन उन्होंने 6 मैच खेले हैं और 13.75 के औसत से सिर्फ 55 रन ही बना पाए हैं। वहीं, 2020 और 2019 में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए भी उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा था। 2020 सीजन में उन्होंने 8 मैच में 62 रन बनाए थे। वहीं, 2019 के सीजन में इस खिलाड़ी के बल्ले से 14 मैच में केवल 169 रन निकले थे। केदार की उम्र भी 36 साल हो गई है। ऐसे में उनके प्रदर्शन और उनकी उम्र को देखते हुए कोई भी टीम इस खिलाड़ी पर दांव लगाना नहीं चाहेगी।

अमित मिश्रा – दिल्ली कैपिटल्स के इस स्पिन गेंदबाज को अब तक दूसरे फेज में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला है। आईपीएल में 166 विकेट ले चुके इस अनुभवी खिलाड़ी के साथ सबसे बड़ी दिक्कत उनकी उम्र है। अमित 38 साल के हो चुके हैं। उनकी फिटनेस भी उनका साथ ज्यादा नहीं देती है। ऐसे में माना जा रहा है कि आईपीएल 2021 का सीजन अमित के लिए आखिरी सीजन हो सकता है। बता दें, आईपीएल में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में अमित मिश्रा दूसरे स्थान पर हैं। उन्होंने 166 विकेट लिए हैं। वहीं, नंबर एक पर लसिथ मलिंगा हैं। उनके नाम 170 विकेट है।

हरभजन सिंह – कोलकाता नाइट राइडर्स के स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह का ये आखिरी आईपीएल हो सकता है। उन्हें 2 करोड़ में कोलकाता की टीम ने खरीदा था। 41 साल के हो चुके हरभजन को आईपीएल के दूसरे फेज में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला है।ऐसा माना जा रहा है कि कोलकाता हरभजन को अगले सीजन से पहले रिलीज कर देगी। उनकी बढ़ती उम्र को देखते हुए अगले साल के ऑक्शन में उनके उपर कोई टीम दांव नहीं लगाना चाहेगी। ऐसे में इस खिलाड़ी का आईपीएल करियर समाप्त ही हो गया है।

​महेंद्र सिंह धोनी – चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का बल्ला पिछले 2 सीजन से कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाया है। इस सीजन उन्होंने 10 मैच में सिर्फ 52 रन बनाए हैं। वहीं, 2020 के सीजन में उनके बल्ले से 14 मैच में सिर्फ 200 रन निकले थे। उनका फॉर्म लगातार खराब होते जा रहा है। वहीं, पहले की तरह धोनी बड़े-बड़े शॉट्स भी नहीं खेल पा रहे हैं। धोनी की उम्र भी 40 साल हो गई है। ऐसे में ये आईपीएल धोनी का आखिरी साबित हो सकता है।

क्रिस गेल – 42 साल के हो चुके क्रिस गेल इस समय पंजाब किंग्स का हिस्सा हैं। अगले साल होने वाले मेगा ऑक्सन में टीम इन्हें रिटेन करेगी या नहीं इसपर बड़ा सवाल है। गेल पहले की तरह अब अपनी बल्लेबाजी में इम्पैक्ट नहीं छोड़ पा रहे हैं। लंबे-लंबे छक्के लगाने वाला ये खिलाड़ी अब बल्लेबाजी के दौरान काफी संघर्ष करता हुआ नजर आता है। आईपीएल के दूसरे फेज में गेल को दो मैचों में मौका मिला। लेकिन वो दोनों मुकाबलों में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए। ऐसे में ये माना जा रहा है कि गेल के लिए ये आखिरी आईपीएल सीजन हो सकता है।

दिनेश कार्तिक – कोलकाता नाइट राइडर्स के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की उम्र 36 साल की हो गई है। उनकी बल्लेबाजी में निरंतरता की कमी साफ नजर आ रही है। एक मैच में वो रन बनाते हैं। तो फिर कुछ मैच में उनके बल्ले से रन नहीं निकलते। ऐसे में कोलकाता की टीम इस खिलाड़ी को रिटेन करेगी या नहीं ये देखने वाली बात होगी। कार्तिक कमेंटेटर के रूप में भी नई पारी शुरू कर चुके हैं। ऐसे में उनके लिए भी ये आखिरी सीजन हो सकता है।

इमरान ताहिर – इमरान ताहिर के लिए आईपीएल 2021 का सीजन आखिरी हो सकता है। चेन्नई की टीम ने दूसरे फेज के एक भी मैच में उनको मौका नहीं दिया है। 42 साल के हो चुके इस खिलाड़ी को अब कोई भी टीम मौका नहीं देना चाहेगी। 2020 के सीजन में ताहिर को सिर्फ 3 मैच में मौका मिला था। वहीं, इस सीजन उन्होंने सिर्फ एक मैच खेला है। ऐसे में ताहिर के लिए भी ये आखिरी आईपीएल साबित हो सकता है।

चेतेश्वर पुजारा – चेन्नई सुपर किंग्स ने चेतेश्वर पुजारा को 50 लाख में खरीदा था। लेकिन इस खिलाड़ी को एक भी मैच में मौका नहीं मिला। बता दें, पुजारा टीम इंडिया के लिए केवल टेस्ट मैच खेलते हैं। जहां उनका स्ट्राइक रेट काफी कम रहता है। वहीं, आईपीएल में बल्लेबाजों को तेजी से रन बनाना होता है। ऐसे में पुजारा के लिए अगले साल होने वाले ऑक्सन में कोई टीम अपने साथ जोड़ेगी। ये कहना थोड़ा मुश्किल है